Translate

bhagwat geeta in hindi( पढ़े ) | download pdf | भागवत गीता

 bhagwat geeta in hindi





bhagwat geeta in hindi( पढ़े ) | download pdf | भागवत गीता

लेखक  -  वेद व्यास

अध्याय  - 18 

श्लोक  - 700 

भाषा   - संस्कृत 

ग्रन्थ   -  सनातम धर्म का एक ग्रन्थ  ( हिन्दू धर्म  )


समीक्षा - 

सामान्य शब्दों में कहे ,तो  भगवान श्री कृष्ण के द्वारा कुरुक्षेत्र (कुरुक्षेत्र अर्थात युद्ध ) में  अर्जुन को दिये जाने वाले उपदेशों के संग्रह को  सामूहिक रूप में  श्रीमद्भगवद्गीता  के  नाम से जानते है वैसे तथ्यात्मक रूप में श्रीमद्भगवद्गीता महाभारत का एक उपखंड अथवा भाग अथवा अंग है |

जो कौरवो एवं पांडवो के मध्य लड़े गए युद्ध के दौरान श्री कृष्ण के द्वारा अर्जुन को दिए गए  उपदेश का संग्रह है जिसको मुख्यतः कुल अर्जुनविषादयोग , सांख्ययोग , कर्मयोग , ज्ञानकर्मसंन्यासयोग , कर्मसंन्यासयोग ,आत्मसंयमयोग , ज्ञानविज्ञानयोग , अक्षरब्रह्मयोग , राजविद्याराजगुह्ययोग ,विभूतियोग विश्वरूपदर्शनयोग भक्तियोग ,क्षेत्रज्ञविभागयोग ,गुणत्रयविभागयोग ,पुरुषोत्तमयोग ,दैवासुरसम्पद्विभागयोग , श्रद्धात्रयविभागयोग , मोक्षसंन्यासयोग के 18 अध्यायों में विभक्त किया गया है

श्रीमद्भगवद्गीता  हिन्दू धर्म का प्रसिद्ध धर्म ग्रन्थ भी है जिसके प्रति लोगो में अपार श्रद्धा भाव है |जिसके मध्य को कुल 700 श्लोक देखने को मिलते है |ऐसा बताया जात है कि श्रीमद्भगवद्गीता मानवीय जीवन के दुविधाओं का समाधान है |

श्रीमद्भगवद्गीता के माध्यम से भगवान श्री कृष्ण  मानवीय जीवन की दुविधाओं आशंकाओं पर प्रकाश डालते है और बतलाते है कि करम क्या है  , ज्ञान क्या है  , आत्मा क्या है , भक्ति क्या है ,योग क्या है  ,मोक्ष क्या है  , पुरुषार्थ  (धर्म , अर्थ काम एवं मोक्ष )  क्या है तथापि इनमे से कौन सा मार्ग श्रेष्ठ है और उसे कैसे प्राप्त किया जा सकता है  वास्तव में श्रीमद्भगवद्गीता  एक नाटकीय मंच के समान है| 

जिसमें  भगवान श्री कृष्ण अर्जुन के माध्यम से इस  संसार को इस सृष्टि की उत्त्पति , विस्तार , जन्म मरम , कर्म चक्र , ज्ञान  , सांसारिक जीवन एवं संन्यास , जड़ - जीव , सजीव ,ईश्वर ,मोह , सगे सम्बन्धी ,दुविधा  इत्यादि के बारे में बताते है  |

डाउनलोड इन  पीडीएफ    -    क्लिक हेयर 

देवाकलासंसर स्टाफ टीम की ओर से आप सभी को बहुत सारी शुभकामनाएं , यह  पुस्तक समीक्षा भागवत गीता  पुस्तक पर आधारित यह आर्टिकल आपको कैसा लगा अथवा  इस  पुस्तक के बारे में दी गई जानकारी आपको कैसी लगी | यदि आपके मन कोई सुझाव अथवा  सलाह  इस लेख के पढ़ने के उपरांत आये हो , तो आप अपने सुझाव  कमेंट बॉक्स में कॉमेट करके दे सकते है | आपके सुझाव अथवा प्रतिक्रियाए हमारे लिए मायने रखते है.. ..धन्यवाद् 

© देवाकला संसार

देवाकला संसार टीम  उत्तर प्रदेश , भारत 

साहित्य , कला , कविता , चित्र कला , पेंटिंग, बुक रिव्यु , विविध रिव्यु  

हेतु मुफ्त केद्र 

bhagwat geeta saar

bhagwat geeta book in hindi pdf download

Post a comment

0 Comments